2024-04-22 11:20:32
शोधार्थी अंक 04 - शोधार्थी

शोधार्थी अंक 04

यह अंक अभी उपलब्ध नहीं है
  • दक्षिण एशिया में समावेशन एवम् बहिर्वेशन : धर्म की भूमिका /राजीव भार्गव
  • धार्मिक स्वतंत्रता/टी एन मदन
  • बहु- सांस्कृतिकता का रूप/भीखू पारीख
  • संघवाद का राजनीतिक सिद्धांत/जेना वेडनर, विलियम एन एस्क्रिज, जॉन फेरेजान 
  • सांप्रदायिक हिंसा का चुनावी सिद्धांत/आशुतोष वार्ष्णेय
  • दलगत एवम् प्रत्यक्ष प्रजातंत्र/सुजैन ई स्कैरो
  • उच्च-ऊर्जावान लोकतंत्र की ओर/रोबर्ट अंगर
  • शोध में अनुवाद की दुविधा/बोगुसिया तेम्पिल एलीस यंग
  • दक्षिण एशिया में नाभिकीय प्रतिस्पर्धा प्रबंधन अमेरिका के लिए नई नीतिगत चुनौतियाँ/पीटर आर लवाय
  • भारत के सुरक्षा सरोकार : राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और वैश्विक/बलजीत सिंह